seo friendly post, kaise likhe, seo, friendly, post, article, in hindi
SEO

SEO friendly post kaise likhe in Hindi

SEO friendly post kaise likhe

क्या आप SEO friendly post लिखना चाहते हैं? तो यह Article सिर्फ आपके लिए ही है। इस पोस्ट में मैं आपको Keyword density, meta description, internal links, external links, focus Keyword selection आदि के बारे में बताऊंगा।

SEO friendly post लिखना on page SEO का ही हिस्सा है। अगर आप blogging में नये हैं तो शायद आप on page SEO और off page SEO के बारे में नहीं जानते होंगे।

On page SEO वो कार्य है जिसकी मदद से हम search engine ranking को बढ़ाते हैं। जैसा की आप इसके नाम से ही समझ सकते हैं। मतलब, अगर हम search engine optimization को बढ़ाने के लिए अपने आर्टिकल में कुछ सुधार करते हैं तो वह on page SEO कहलाता है।

लेकिन अगर हम off page SEOके बारे में बात करते हैं तो इसका उपयोग हम वेबसाइट की authority को बढ़ाने के लिए उपयोग में लाते हैं। यह भी एक SEO का ही हिस्सा है। इसके अंतर्गत Backlinks, guest posting, directory submission आदि आते हैं।

चलिए अब हम अपने मेन विषय की तरफ आते हैं। जो है “ SEO friendly post kaise likhe ?”

SEO friendly postलिखने के लिए आपको इन 10 चीजों के बारे में ध्यान रखना होगा।

  • Original Content का उपयोग करना।
  • Heading और Sub-Heading.
  • Focus Keyword का चयन।
  • Internal और External Links.
  • Image Optimization
  • Keywords की संख्या।
  • Meta Description
  • Paragraph का उपयोग करना।
  • सही Font का चयन।
  • Article की लंबाई।

अगर आप इन सभी 10 बातों का ध्यान रखते हैं तो आप आसानी से SEO friendly post लिख सकते हैं। चलिए अब हम इनको विस्तार नहीं समझते हैं।

Original Content का उपयोग करना

आप जब भी कोई नया आर्टिकल लिखना शुरू करें तो आप को सबसे पहले यह ध्यान रखना है की आपका content बिल्कुल original हो। मतलब वह आपके द्वारा ही लिखा हुआ होना चाहिए। अगर आप किसी दूसरे ब्लॉग से या किसी दूसरी वेबसाइट से content को copy करते हैं तो यह आपके आर्टिकल की SEO के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है।

आप दूसरे ब्लॉग से अपने आर्टिकल के लिए idea ले सकते हैं लेकिन आपको उनका content हुबहू उपयोग नहीं करना है। आप जिस विषय के बारे में लिखना चाहते हैं उस विषय से संबंधित दूसरे ब्लॉक पढ़ें और फिर अपने तरीके से अपने आर्टिकल को लिखें।

Heading और Sub-Heading.

Heading और Sub-Headingआपकी आर्टिकल में होने बहुत जरूरी है। क्योंकि यह पढ़ने वालों को अच्छा अनुभव देगा।
अगर आप बिना Heading और Sub-Heading के अपने आर्टिकल को लिखेंगे तो कोई भी आपके आर्टिकल को पढ़ने में रुचि नहीं दिखाएगा। जिसके कारण आपकी वेबसाइट का Bounce rate बढ़ेगा जो SEO के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है।

इसीलिए अपने ब्लॉग में हमेशा Heading और Sub-Heading का उपयोग करें।

Focus Keyword का चयन।

जब भी कोई व्यक्ति Google में सर्च करता है तो Google उन्हीं शब्दों से संबंधित परिणाम आपको दिखाता है।

अब मान लीजिए कि आप सर्च कर रहे हैं SEO friendly post kaise likhe ? तो Google आप कौन इसी से संबंधित परिणाम दिखाएगा।और अगर आपने इस keyword को Focus Keyword Select किया हुआ है तो आपकी पोस्ट भी Google सर्च में दिखाई जाएगी।
अगर आपकी वेबसाइट WordPress में है तो आप Yoast Plugin का उपयोग कर सकते हैं।

Internal और External Links

External Links: जब हम किसी दूसरी वेबसाइट के लिंक को अपने आर्टिकल में Hyperlink करते हैं तो यह External Links कहलाते हैं।
Internal Links: यह भी Hyperlink का ही हिस्सा है। लेकिन Internal Links में हम अपनी ही किसी दूसरी पोस्ट को Hyperlink करते हैं।

यह दोनों ही SEO के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि Internal और External Links पढ़ने वाले को Good Quality की Information देते हैं। Google आपके पेज को रैंक करने से पहले Internal Links और External Links को ध्यान में रखता है।

इसीलिए Internal और External Links आपकी वेबसाइट के लिए और आपके ब्लॉग के लिए बहुत ही उपयोगी है।

Image Optimization

यह भी SEO का एक बहुत जरूरी हिस्सा है अगर आप अपनी Images को Optimize करते हैं तो आप बहुत ही आसानी से अपनी वेबसाइट पर Traffic ला सकते हैं।

Images को Optimize करने के लिए हमें Images में Alt Tag का उपयोग करना होता है। और Google इसी Alt Tags से हमारी इमेज को समझता है।

Keywords की संख्या

जब भी आपको यह आर्टिकल लिखें तो आपको यह जरूर ध्यान में रखना है कि वह आर्टिकल कितना लंबा और कितने Keyword आपने उस में उपयोग किए हैं।

300 से ज्यादा Keywords का आर्टिकल SEO के लिए अच्छा माना जाता है। तो इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आपके आर्टिकल में कम से कम 300 शब्द हो।

Meta Description

यह आपके आर्टिकल का सारांश होता है। जब भी आप Google में कुछ भी सर्च करते हैं तो आप हर लिंक के नीचे Meta Description को देख सकते हैं। Meta Description, Google को यह समझने में मदद करता है कि आपका आर्टिकल किस के बारे में है। और इसकी मदद से Google आपके पेज को Rank करता है।

Paragraph का उपयोग

कोई भी व्यक्ति आपके आर्टिकल को तब तक नहीं पड़ेगा जब तक वह Paragraph में सुनियोजित नहीं होगा। इसीलिए Paragraph का उपयोग आप के आर्टिकल में होना बहुत जरूरी है।

सही Font का चयन

Font का चयन इसीलिए जरूरी होता है क्योंकि जब भी कोई व्यक्ति आपकी आर्टिकल को पड़ता है तो वह यह दिखता है की आपका आर्टिकल पढ़ने में कितना आसान है।
इसीलिए फोन का चयन बहुत ही जरूरी हो जाता है।

Article की लंबाई

अगर आप अपने आर्टिकल की लंबाई ज्यादा से ज्यादा रखते हैं तो Google भी आपकी आर्टिकल को रैंक करने में मदद करेगा। Google हमेशा चाहता है कि जो भी व्यक्ति Google पर सर्च करें उसे वह ऐसा Content दिखाएं जो उसके लिए उपयोगी हो।

अगर आप अपने आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लंबा बनाते हैं और अच्छे से उसमें सभी चीजों को Explain करते हैं तो इस बात के बहुत ज्यादा चांस बढ़ जाते हैं कि आपका पेज Google के फर्स्ट पेज पर रंग हो।


मैं अपनी वेबसाइट में इंग्लिश और हिंदी मैं पोस्ट लिखता हूं। और मैं यह जानना चाहता हूं कि आपको हिंदी में पोस्ट पढ़ना ज्यादा अच्छा लगता है या फिर इंग्लिश में। इसीलिए कृपया करके अपनी राय जरूर दें।

यह पोस्ट आपको कैसी लगी इसके बारे में भी मुझे Comment Box में जरूर लिखें। और अगर आपको यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी लगी हो तो कृपया करके इसे अपने दोस्तों के साथ Share करें।

यह ज़रुर पढ़े:

Rashvinder
Hi, Welcome to our blog Star Hindi Tech. I am professional Blogger, Youtuber, Digital Marketer & Entrepreneur. I love doing work which makes me happy, that’s why I love blogging and Youtubing. You will love exploring educational stuff on our blog in the Hindi Language. Thank You! :)

6 Replies to “SEO friendly post kaise likhe in Hindi

  1. आप की पोस्ट काफी helpful है और समजने में भी सरल. में new blogger हूँ. अभी तक जादा कुछ पता नहीं SCO के बारे में. हिंदी में post title हिंदी में लिखना चाहिए या उसमे इंग्लिश keyword use करना सही रहेगा ? और permalink क्या हिंदी में लिखते है या इंग्लिश में लिखना जरुर होता है ?

    1. Agar aap Hindi ke sath sath english ke words use karenge to accha rahega. Permalinks me English words ka use kare, or ho sake to HINGLISH( Hindi ko English words me likhna,) me likhe, Mujhe bahut accha laga ki aap ek new blogger hain or STAR HINDI TECH ke reader hain.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *